केटेगरी : पिंक क्रोनिकल्स

मेरा पहला प्यार#The world poetry day

प्यार कहूँ या आकर्षण,खींच जाता है मेरा मन,न कोई आस न उम्मीद,फिर बन गया है धड़कन।सिमटी रही थी सदा स्वयं में,बंद रखें थे दिल के दरवाजे,बड़ा ही गुरुर था स्वयं पर,नही खोल सके कोई दिल के ताले।पर...

और पढ़ें

तेरी दीवानी

तेरी दीवानीरखना यूं ही सदा इश्क की निशानी बना कर, मुझे अपने दिल की सुन्दर कहानी बना कर, प्यार बेशक जिस्मानी हो ना हो, रखना इसे रूहानी बना कर।हाथ में हाथ इस कदर थामे रखना, हाथों से जो बनाए हैं दिलों...

और पढ़ें

कहो कैसा लगा

मेरा पहला प्यार मेरे करीब आओ मेरा हाथ थामो मेरे साथ चलो, मुझसे इश्क का इज़हार करो कहो कैसा लगा..मेरी आँखों में झाँको मुझे अपना कहो तुम्हें जानना है मुझे, अपने वजूद को मुझे सौंपकर कहो कैसा लगा..मुझसे बातें...

और पढ़ें

मेरी कविता

लिखती हूँकुछ बातें ,कुछ जज्बातें,कुछ कमजोर पड़ जाते जीवन के लम्हातें।लिखती हूँकुछ हँसी,कुछ खुशी,कुछ अपने हिस्से में आई जीवन की बेबसी।लिखती हूँकुछ उदासी,कुछ उबासी,कुछ लम्हें जिन्हें पाकर भी...

और पढ़ें

कौन है तेरी आंखों में

कौन है तेरी आंखों में?कौन है तेरी आंखों में बसा, किस के दिल का तुम पर इख्तियार है, क्यों हर पल आंखें तेरी क्यों नशे में झूमा करती हैं, क्यों ये लेती हैं रिश्वत नज़रों की, क्यों ये मय के प्यालों से मिला करती है।मिलकर...

और पढ़ें

दीदार-ए-रूख़सार

दीदार-ए-रूख़सार तरस गई है आंखें उनके दीदार-ए-रूखसार को,और वो‌ हैं कि ख़्वाबों में भी घूंघट में आते हैं, कोई तो कह दे उनसे कि हम ना यूं ज़ुल्म करें, हमारा ना सही हमारे दिल का तो कुछ ख्याल करें।इस...

और पढ़ें

व्यस्त हैं सभी

व्यस्त हैं सभीव्यस्त हैं सभी आज अपने-अपने कामों में,कोई व्यस्त सुख के पलों में, कोई व्यस्त दुःख के घावों मे, कोई व्यस्त मोह- माया के बंधन में, कोई रिश्ते- नाते वाले नामों में। नहीं किसी को फुर्सत दो पल बैठ सुने...

और पढ़ें

उम्मीद-ए-विसाल

उम्मीद-ए-विसाले-यार चांद भी कर रहा अटखेलियां संग चांदनी के, बांवरा मन भी मेरा खोया है सपनों में सजन के,चांद कहीं से ढूंढ कर ला चांद मेरा, तेरे जैसा ही है मेरे चांद का मुखड़ा।जा तुझे चांदनी...

और पढ़ें

नया ज़माना आया है

नया ज़माना आया हैनया ज़माना आया है, नए-नए फैशन लाया है,कुर्ता तो हो गया लम्बा, पैंट को छोटा बनाया है, कहीं काटा घुटनों से, कहीं जांघों से फाड़ दिखाया है, नया ज़माना आया है।बदन को रख कर नंगा...

और पढ़ें

नीना गुप्ता ने कहा- सिंगल मदर बनना ब्रेवरी नहीं

बॉलीवुड दिग्गज अदाकारा नीना गुप्ता फिल्म इंडस्ट्री में एक लंबा सफर तय कर चुकी हैं. इस दौरान उन्होंने हर तरह के चैलेंजिंग रोल्स को बखूबी पर्दे पर उतारा है।लीक से हटकर चलना किसे कहते हैं, यह जानना हो तो अदाकारा नीना गुप्ता...

और पढ़ें