केटेगरी : फ्राइडे पोस्टमॉर्टम

#बंदिश बैंडिट्स ...टकराव, त्याग और प्रतिभा की एक कहानी

 पिछले लॉक डाउन पर ये वेब सीरीज देखी थी... बंदिश बंदित यानि... बंधन या अदृश्य रूप से किसी को चारों तरफ से बांध कर रखना...। नासिरउद्दीन यानि पंडित राधे के अहम की कहानी...।पुरातन काल से महिला की प्रतिभा को कर्तव्य और मर्यादा...

और पढ़ें

मूवी रिव्यू (सांड की आंख)

लेटेस्ट तो नही कह सकती लेकिन कोरोना महामारी से पहले जो महिलाओं पर आधारित लास्ट मूवी देखी थी वह यही थी और मुझे बेहद पसंद आई थी। इसके बाद तो सब बंद ही हो गया और इतना समय भी नहीं मिलता कि कोई मूवी देख पाएं। शुरूआत में नाम थोड़ा...

और पढ़ें

#वेब सिरीज़ रिव्यूज़ .... बाम्बे बेगम

मैने अभी हाल ही नेटफलिक्स पर बोम्बे बेगम्स वेब सिरीज़ देखी । ये रिलीज़ तो 8 मार्च 2021को हुआ ।पर उस वक्त...

और पढ़ें

मेंटलहुड वर्सेज मदरहुड

हाल ही में मैंने करिश्मा कपूर की मेंटलहुड देखी।मुझे बहुत अच्छी लगी।लगती भी क्युं ना....खुद को रिलेट जो कर पा रही थी। मदरहुड के साथ ही हमारी मेंटलहुड की शुरुआत हो जाती है। मां बनने के बाद जब बच्चा रात में सोता नहीं है तो हमें...

और पढ़ें

हक के लिए सही बोलने के लिए मुँह खोलने वालों को अक्सर दुनिया...

हक के लिए सही बोलने के लिए मुँह खोलने वालों को अक्सर दुनिया 'पगलैट' कहती है।एकता कपूर के बालाजी मोशन पिक्चर्स में बनी और दंगल फेम ऐक्ट्रेस सान्या मलहोत्रा अभिनीत फ़िल्म पगलैट में उन मुद्दों को उठाया गया है जो ये समाज एक विधवा से...

और पढ़ें

Married Women वेब सीरीज रिव्यु

हर सामाजिक मुद्दें पर हाथ आज़माने वाली एकता कपूर की वेब सीरीज़ मैरीड वुमन सीरीज़ में महिलाओं के ऐसे मुद्दों पर बात की गयी है, जो आम तौर पर नज़रअंदाज़ किये जाते हैं। छोटे पर्दे पर सास-बहू के ड्रामों के बाद एकता पिछले कुछ वक़्त से...

और पढ़ें

"बोम्बे बेगम्स में आख़िर है क्या"

अलंकृता श्रीवास्तव हंमेशा गहरे और गंभीर स्त्री विमर्श के मुद्दों को लेकर फ़िल्में बनाने के लिए मशहूर है पर इस बार बोम्बे बेगम स्त्री तन के इर्द-गिर्द घूमते कथानक पर आधारित है। कॉरपोरेट दुनिया में बढ़ती महिलाओं की यह कहानी...

और पढ़ें

तांडव पर तांडव क्यूँ ?

"क्यूँ हो रहा है तांडव पर तांडव" अवसाद से उभरने के लिए इंसान को क्या चाहिए? हंसी, खुशी, एन्टरटेंटमेन्ट मूड़ फ़्रेश करने के लिए हम देखते है टीवी   सीरियल या फ़िल्में। पर आज जिस तरह की वेब सिरीज बन रही है उसे देखकर तो...

और पढ़ें

हर बिसात की कहानी...एक रानी

छुटपन की एक छोटी सी कहानी हो या साहिब और गैंगस्टर की , एक रानी का होना बेहद जरुरी है | राजा के साथ रानी न हो तो न शतरंज का मजा है और न ही कहानी का |  इन दोनों को कहानी बताई है नेटफ्लिक्स की मिनी सीरीज द क्वीन्स गैम्बिट , सीरीज...

और पढ़ें

हकीकत बयान करती आस्था वर्मा की ‘द लास्ट राइट्स’

देश में नारी स्वतंत्रता व नारी उत्थान के तमाम नारे दिए जा रहे हैं, तमाम उद्घोष हो रहे हैं. मगर हकीकत यह है कि औरतों के हक को लेकर कुछ नही हो रहा है. सारी नारी बाजी ढाक के तीन पात हैं। पितृसत्तात्मक सोच ने भारत की जड़ों को ऐसा खोखला...

और पढ़ें