फाइनेंशियल प्लानिंग करते समय अपनाये ये 9 टिप्स

हम अपने बुने हुए सपनों को पूरा नहीं कर पाते हैं लेकिन सपनों को पूरा किया जा सकता है यदि हम समय रहते अपनी financial planning कर ले और उस पर नजर भी रखें तो सभी सपनों को आसानी से पूरा किया जा सकता है। हमें फाइनेंशियल प्लानिंग करते समय निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए।

फाइनेंशियल प्लानिंग करते समय अपनाये ये 9 टिप्स

हम सभी ढेर सारे सपने बुनते हैं और उनको पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत भी करते हैं। लेकिन जीवन में ढेर सारी जरूरतें हो जाती है और हम सभी की आय सीमित होती है।

लिहाजा हम अपने बुने हुए सपनों को पूरा नहीं कर पाते हैं लेकिन सपनों को पूरा किया जा सकता है यदि हम समय रहते अपनी financial planning कर ले और उस पर नजर भी रखें तो सभी सपनों को आसानी से पूरा किया जा सकता है। हमें फाइनेंशियल प्लानिंग करते समय निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए।

1-अपनी इनकम के मुताबिक बजट बनाएं-हम सभी को सबसे पहले अपनी इनकम के हिसाब से बजट बनाना चाहिए बजट बनाने से हमारी फाइनैंशल प्लानिंग सुचारू रूप से चलती है और हम अपनी फाइनैंशल प्लानिंग पर नजर भी रख पाते हैं इसलिए हमें बजट जरूर बनाना चाहिए।

2-इमरजेंसी फंड का निर्माण करना-किसी भी विपरीत परिस्थिति से निबटने के लिए हर किसी को इमरजेंसी फंड का निर्माण जरूर करना चाहिए। इसके लिए हर महीने एकमुश्त राशि अपने अकाउंट में जमा कराएं। इस फंड में आपके पास कम से कम 6 से 8 महीने के खर्च का इंतजाम जरूर होना चाहिए।

3-हैल्थ केयर फंड -आज के जमाने में हेल्थ केयर फंड का होना बेहद जरूरी है क्योंकि किसी भी आपातकालीन स्थिति में आपको हेल्थ केयर फंड से काफी राहत मिलती है इसके लिए आप एक हैल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ले सकते हैं जो कि बहुत ही जरूरी है। किसी भी परिवार के लिए हेल्थ इंश्योरेंस बेहद जरूरी है। यह आपके पूरे परिवार को किसी भी मेडिकल इमरजेंसी में काफी राहत प्रदान करती हैं।
4-इंश्योरेंस कराना-हर किसी को अपना इंश्योरेंस जरूर कराना चाहिए यह आपके जाने के बाद आपके परिवार को फाइनेंशियल सपोर्ट प्रदान करती है। इसके लिए आप टर्म इंश्योरेंस ले सकते हैं जोकि इंश्योरेंस का सबसे सस्ता ऑप्शन है इसमें इंस्टॉलमेंट बेहद कम जाती हैं जिससे आपका काफी पैसा बचा सकते हैं।

5-निवेश,-आप अपने सेविंग को किसी अच्छे फंड में निवेश कर सकते हैं यदि आपको लॉन्ग टाइम में बड़ी पूंजी चाहिए तो आप लॉन्ग टर्म में निवेश ऑप्शन चुन सकते हैं। इसमें आप एसआईपी के द्वारा निवेश कर सकते हैं। इसमें फंड मैनेजर आपके निवेश पर नजर रखते हैं। आप किसी भी फाइनेंसियल एजेंट की सलाह ले सकते हैं।वो आपके पैसों को लेकर सही निवेश की जानकारी दे सकता है।

6-लोन समय पर चुकाना-कभी-कभी बहुत सारे लोग रीपेमेंट की क्षमता से ज्यादा लोन ले लेते हैं इस से हमेशा बचना चाहिए यदि किसी कारणवश आपको लोन लेना पड़े तो सबसे पहले उसे चुकाने पर ध्यान देना चाहिए कभी भी रीपेमेंट क्षमता से अधिक लोन नहीं लेना चाहिए। यदि आपने लोन लिया है तो जल्द से जल्द इस लोन को चुकाने की व्यवस्था करनी चाहिए इससे भी आप की काफी बचत हो सकती हैं।

7-वसीयत तैयार करें-आपको सही समय पर अपनी वसीयत तैयार कर लेनी चाहिए यदि संभव हो तो संपत्ति को प्राकृतिक आपदा से होने वाले नुकसान के लिए इंश्योरेंस ही कराना चाहिए। ऐसा करने से आपके जाने के बाद  आपकी अर्जित संपत्ति आपके उत्तराधिकारी को आराम से मिल जाती है।

8-ई एम आई समय पर भरना -बहुत सारे लोग समय पर ईएमआई भरना भूल जाते हैं जिसके कारण उन्हें ईएमआई पर पेनल्टी भरनी पड़ती है जिसमें काफी पैसा बर्बाद हो जाता है समय पर ईएमआई भरकर हम काफी बचत कर सकते हैं।

 हम सभी को समय समय पर अपने फाइनैंशल गोल पर नजर रखनी चाहिए क्योंकि ज्यादातर लोग फाइनैंशल गोल तो बनाते हैं लेकिन उस पर नजर ना रखने के कारण अपने फाइनैंशल गोल को अचीव नहीं कर पाते जिसके कारण हमारे सपने पूरे नहीं हो पाते हैं। समय-समय पर हमें देखना चाहिए कि हमने जहां जहां पैसा निवेश किया है उसका भरपूर लाभ हमको मिल रहा है या नहीं समय समय मॉनिटरिंग करना बेहद जरूरी है।


अनीता सिंह

(Blogger and community moderator)

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0