नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति - 2020

नई शिक्षा नीति में जो भी कदम उठाए गए हैं आशा करते हैं कि यह बच्चों के भविष्य को उज्ज्वल और उनके सपनों को साकार करने में महत्वपूर्ण सिद्ध होंगे। 

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति - 2020

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति - 2020

34 वर्षों  से चली आ रही पुरानी शिक्षा नीति में महत्वपूर्ण परिवर्तन करते हुए  केंद्र सरकार द्वारा 'नई शिक्षा नीति- 2020' को शिक्षा जगत में पूरी तरह बदलाव लाने के लिए मंजूरी दे दी है ।

इस नीति के तहत सर्वप्रथम कदम उठाते हुए मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय कर दिया गया है । 

नई शिक्षा नीति में 10 + 2 के फॉर्मेट को पूरी तरह खत्म कर दिया गया है और इसे 10 + 2 से बाँटकर 5 + 3 + 3 + 4 फॉर्मेट में ढाला गया है।

 

अब स्कूल के पहले पाँच साल में प्री प्राइमरी स्कूल के 3 साल और कक्षा 1, कक्षा 2 सहित फाउंडेशन स्टेज शामिल होंगे । फिर अगले 3 साल को कक्षा 3 से 5 की तैयारी के चरण में बाँटा गया है । इसके बाद में 3 साल मध्य चरण कक्षा 6 से 8 और माध्यमिक अवस्था के 4 वर्ष कक्षा 9से 12 में बाँटा गया है । 

इसके अतिरिक्त स्कूलों में कला, वाणिज्य और विज्ञान संकाय का कोई कठोर पालन नहीं होगा । छात्र अब जो भी पाठ्यक्रम चाहे , वह ले सकता है ।

नई शिक्षा नीति के कुछ मुख्य बिंदु -

नई शिक्षा नीति के तहत अब पाँचवीं तक के छात्रों को मातृभाषा , स्थानीय भाषा और राष्ट्रीय भाषा में ही पढ़ाया जाएगा । बाकी विषय फिर चाहे वह अंग्रेज़ी ही क्यों न हो, एक विषय के तौर पर ही पढ़ाया जाएगा ।

9वीं से 12वीं कक्षा तक समैस्टर परीक्षा होगी । वहीं कॉलेज की डिग्री 3 और 4 साल की होगी यानि कि ग्रेजुएशन के पहले साल सर्टिफिकेट, दूसरे साल डिप्लोमा व तीसरे साल डिग्री मिलेगी । तीन साल की डिग्री उन छात्रों के लिए है जिन्हें हायर एजुकेशन नहीं लेना है। चार साल की डिग्री करने वाले विद्यार्थी एक साल में एम.ए. कर सकेंगे ।

अब एम.ए. के बाद सीधी पी.एच.डी. होगी। एम.फिल.को समाप्त कर दिया गया है ।

फॉरेन लैंग्वेज कोर्स भी स्कूलों में शुरू होंगे ।

नई शिक्षा नीति में जो भी कदम उठाए गए हैं आशा करते हैं कि यह बच्चों के भविष्य को उज्ज्वल और उनके सपनों को साकार करने में महत्वपूर्ण सिद्ध होंगे। 

पिंक कॉमरेड भारत के भावी कर्णधारों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करता है।

मधु धीमान

पिंक कॉलमनिस्ट-हरियाणा

What's Your Reaction?

like
3
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0