पेरेंटिंग हेतु सचिन पायलट से सीखने योग्य 5 बातें

पेरेंटिंग हेतु सचिन पायलट से सीखने योग्य 5 बातें

१- जितना पचा सके, उतना ही खाये : आपकी महत्वकांक्षा और आपका यथार्थ एक दूसरे के पूरक होने चाहिए | आपका पढ़ाई में बिलकुल मन नहीं लगता हैं और आप अपने पिताजी से मेडिकल की कोचिंग के लिए पैसा मांगते हैं , तो आपके पिताजी का आपको थप्पड़ देना पूर्णत उपयुक्त कहा जाएगा | बच्चे के सामर्थ्य का ध्यान रखे | 

२-  आँखों पर भरोसा कीजिये, कानो पर नहीं : बेशक कोई कहे उसके पास 30 विधायक है , जब तक आप अपनी आँखों से विधायकों की गिनती न कर ले , संतुष्ट मत होना | आपका बच्चा आपसे कहे के उसके सारे पर्चे बहुत अच्छे जा रहे हैं लेकिन उसका रिजल्ट बेकार आया तो झूठ बच्चा बोल रहा हैं रिजल्ट नहीं | आंकड़ों पर जाइये , बच्चे की भावना पर नहीं |  

३- दूसरे से तुलना न करे : आपके बाजू वाले राज्य में तख्तापलट हुआ, कांग्रेस गई और भाजपा आई , इसका मतलब ये नहीं के आप भी वो कारनामा दोहरा लेंगे | बेशक आपके हौंसले बुलंद होने चाहिए लेकिन दुसरो का कारनामा उनकी अपनी कैपेसिटी के हिसाब से आया , आप अपनी तुलना उनसे न करे | बच्चो की तुलना दूसरे से न करे | 

४-जोश पर अनुभव हमेशा भारी: आप अच्छे देखते हैं , बढ़िया वाला चश्मा पहनते हैं , आप युवा हैं , आपमें जोश हैं लेकिन भाई सामंने वाले के पास अनुभव हैं | अनुभव का सम्मान करे और जब तक आप खुद अनुभवी न हो जाए , होश से काम ले न कि जोश से | बच्चो को अपने अनुभव से अच्छे सबक दीजिये | 

५- ऊपर वाला सब जनता है : बेशक आपको लगे कि पार्टी हाईकमान दिल्ली में बैठी है , जयपुर से दूर हैं लेकिन यकीं मानिये उन्हें सब मालूम हैं | किसका कितना वजन हैं और कौन कितना हल्का | बच्चे को लगता पेरेंट्स को कुछ नहीं मालूम हैं लेकिन हमेशा एक कहावत को याद रखिये, बाप , बाप होता हैं | बेशक आपके पेरेंट्स आपको समय काम दे पाए लेकिन उन्हें आप मूल्यांकन बिलकुल पता हैं | अपने बच्चो को हमेशा इस बात की जानकारी दे के आपको  सब पता हैं |

What's Your Reaction?

like
2
dislike
0
love
0
funny
1
angry
0
sad
0
wow
0