नंगे पैर घास पर चलने के फायदे

नंगे पैर घास पर चलने के फायदे

हमारे बड़े बुजुर्ग हमेशा से कहते आ रहे हैं कि सुबह की सैर व आबोहवा है लाख रूपये की दवा ! अर्थात सुबह सुबह की सैर हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है साथ ही वह कई बीमारियों से बचाती है | सुबह नंगे पैर घास पर चलना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है आज हम नंगे पैर घास पर चलने के फायदे जानेंगे जो इस प्रकार से हैं |                                                             

1, नंगे पैर हरी घास पर चलने से आंखों को बहुत फायदा होता है इसके अलावा एलर्जी और छींक में राहत मिलती है | सुबह-सुबह ओस में भीगी घास पर नंगे पैर चलने से स्ट्रेस कम होता है व मधुमेह के रोगियों को भी फायदा पहुंचाता है | हरी घास में नंगे पैर चलने से पैरों के नीचे की कोमल कोशिकाओं से जुड़ी तंत्रिकाओं द्वारा मस्तिष्क तक राहत पहुंचाता है |                                                   

2, सुबह-सुबह नंगे पैर घास में चलने से आप चुस्त-दुरुस्त व तंदुरुस्त रहेंगे आप जितनी देर तक जितना ज्यादा हरी घास पर नंगे पैर चलेंगे उतने ही स्वस्थ व तनाव मुक्त रहेंगे |                                                       

3, मधुमेह के रोगी यदि गहरी सांस लेते हुए टहलें तो शरीर में ऑक्सीजन की पूर्ति होने से समस्या से मुक्ति पाई जा सकती है |                                                       

4, नंगे पैर पैदल चलते वक्त आपके पंजों का निचला भाग सीधा धरती के संपर्क में आता है जिससे एक्यूप्रेशर के जरिए सभी भागों की एक्सरसाइज होती है  व कई तरह की बीमारियों से निजात मिलती है |                             

5, नंगे पैर घास पर चलने से शरीर में प्राकृतिक रूप से ऊर्जा बनी रहती है शरीर के अंग अधिक सक्रिय , सुडौल व उपयोगी बनते हैं इसके साथ ही रक्तसंचार भी बेहतर होता है |                                                               

6, नंगे पैर घास पर चलते हैं तो सूर्य की किरणें विटामिन डी के साथ पोषण भी प्रदान करती हैं जिससे सनस्क्रीन विटामिन भी कहते हैं विटामिन डी हड्डियों को स्वस्थ रखने में सहायक होता है |                                                   

7, ट्रांस फैट (वसा) , सिगरेट , कीटनाशक आदि के संपर्क में आने से मुक्त कण तनाव आपके शरीर के इलेक्ट्रॉन्स को नष्ट कर देता है और पृथ्वी फ्री रेडिकल बूस्टिंग इलैक्ट्रांस का एक अच्छा स्रोत है |                     

8, नंगे पैर घास पर चलने से नींद में सुधार आता है व हृदय बेहतर होता है |                                             

9, दिमाग तेज होता है वह प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है और तो और प्रकृति का सानिध्य प्राप्त होता है शरीर के अंदर की सभी क्रियाएं सुचारू रूप से होती है व निरोगी काया बनती है |                                                                     

यदि आप शरीर को स्वस्थ रखना चाहते हैं या छोटी-मोटी बीमारियों को लेकर डॉक्टरों के चक्कर नहीं लगाना चाहते हैं तो सुबह-सुबह नंगे पैर ओस से भीगी घास पर चलिये जिससे निरोगी काया प्राप्त होगी व सकारात्मक बदलावों को आप प्रत्यक्ष महसूस कर सकेंगे आज के बदलते परिवेश में हमारा खान-पान बदल रहा है कोई भी चीजें शुद्ध नहीं मिल रही है जिससे कई बीमारियों जैसे बी.पी. मधुमेह जैसी बीमारियों से हम घिरते चले जा रहे हैं इसके अलावा अन्य बीमारियां भी हो रहीं हैं इन सब से निजात पाने के लिए सुबह-सुबह कुछ घंटे घास पर चलकर देखिए आप खुद को पहले से ज्यादा सक्रिय व निरोग महसूस करेंगे |                                                                                                                       

धन्यवाद                                                                   

रिंकी पांडेय

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0