बॉलीवुड के डिस्को किंग, गोल्डन मैन बप्पी लहरी नहीं रहें!

बॉलीवुड के डिस्को किंग, गोल्डन मैन बप्पी लहरी नहीं रहें!

आज रपट जाने दो,यार बिना चैन कहां, रे ,तम्मा- तम्मा ,जवानी जाने मन ,रात बाकी,दे दे प्यार दे

ऐसे ही अनगिनत  गाने आज भी लोग थिरकने को मजबूर हो जाते हैं सिंगर-कंपोजर  बप्पी लहरी हम सबके बीच नहीं रहे ।

जी हाँ म्यूजिक जगत से एक और बार फिर बुरी खबर सामने आ रही है। भारत की स्वर कोकिला लता मंगेशकर के बाद अब प्रसिद्ध म्यूजिक डायरेक्ट बप्पी लहरी का निधन हो गया है। 
अपनी आवाज और गानों से हिंदी सिनेमा में अपना नाम बनाने वाले गायक बप्पी लाहिड़ी ने मुंबई के एक अस्पताल में  आखिरी सांस ली। 

69 साल के बप्पी लहरी के  निधन की खबर से बॉलीवुड और म्यूजिक इंडडस्ट्री में शोक की लहर है। 

इस खबर के सामने अपने के बाद सोशल मीडिया पर हर कोई उन्हें श्रद्धांजलि दे रहा है।

म्यूजिक इंडस्ट्री में बप्पी लाहिड़ी को डिस्को किंग कहा जाता था । उनका असली नाम अलोकेश लाहिड़ी था । बप्पी लहरी अपने म्यूजिक के साथ साथ सोना पहनने के अंदाज को लेकर भी जाने जाते रहे । लेकिन उनके सोना पहनने के पीछे का राज क्या है?

 इसको लेकर खुद बप्पी लाहिड़ी ने एक इंटरव्यू में बताया है। उन्होंने बताया था कि वो किसी मशहूर पर्सनैलिटी से काफी प्रभावित थे। उनको देखने के बाद उन्होंने भी अपना स्टाइल बनाने के लिए ऐसा किया।


बप्पी दा ने एक इंटरव्यू में बताया था कि वो अमेरिकी पॉप स्टार एल्विस प्रेस्ली से काफी प्रभावित थे। एल्विस अपने कॉन्सर्ट के दौरान सोने की चेन पहनते थे। बप्पी दा ने इंटरव्यू में बताया कि मैं जब एल्विस को देखता था तो सोचता था कि मैं जब मशहूर और सफल हो जाऊंगा तो अपनी भी एल्विस के जैसी छवि बनाऊंगा।

 इसके अलावा वो अपने सोना पहनने को काफी लकी भी मानते थे ।

बप्पी लहरी जी को उनके स्वर्णिम संगीत के लिए हमेशा-हमेशा याद रखा जाएगा ।

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0