गणतंत्र दिवस विशेष-वो महिला जिन्होंने विदेश में पहली बार फहराया भारत का झंडा

गणतंत्र दिवस विशेष-वो महिला जिन्होंने विदेश में पहली बार फहराया भारत का झंडा

भारत अपना 73वां गणतंत्र दिवस मनाने जा रहा है। 26 जनवरी 1950 को भारत का संविधान पूरे देश में लागू हुआ था। इस मौके पर हर साल 26 जनवरी को पूरा देश हर्षाल्लास से मनाता है। 


ब्रिटिश शासन से आजादी दिलाने में भारतीय नारियों का विशेष योगदान था,भारत का नाम रौशन करने में देश की मातृत्व शक्ति की भूमिका हमेशा ही सशक्त रही है। 


आज हम बताने जा रहे हैं ऐसी ही एक सशक्त महिला के बारे में-


साल 1907 था जब किसी विदेशी सरजमीं पर पहली बार भारत का झंडा फहराया गया। झंडा फहराने वाली एक महिला थीं जिनका नाम था भीकाजी कामा।


भीकाजी कामा मुंबई के संपन्न पारसी परिवार में 24 सितंबर 1861 को पैदा हुई थीं. कई भाषाओं में पारंगत भीकाजी का विवाह रुस्तम कामा के साथ हुआ था. शादी के बाद भीकाजी ने अपना ज्यादातर समय समाज सेवा और जनकल्याण की गतिविधियों में बिताया था।

मैडम कामा ने ब्रिटिश हुकूमत को हिलाकर रख दिया था। उन्‍होने ब्रिटिश शासन को भारत पर लगा कलंक बताकर उनकी जड़े हिलाने का काम किया था। उन्‍होंने ही पहली बार भारत का राष्‍ट्रीय ध्‍वज फहराकर ब्रिटिश हुकूमत को चुनौती दी थी।


उन्हें क्रान्ति की जननी" की उपाधि से नवाजी गया था ।

हालांकि ये झंडा वैसा नहीं था जैसा कि हमारा आज का राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा है. ये स्वतंत्रता संघर्ष के दौरान बनाए गए तमाम अनौपचारिक झंडों में से एक था. इसमें हरे, पीले और लाल रंग की तीन पट्टियां थीं. सबसे उपर हरे रंग की पट्टी में आठ कमल के फूल बने थे जो भारत के आठ प्रांतों को दर्शाते थे. बीच में पीले रंग की पट्टी थी जिस पर वंदे मातरम लिखा हुआ था. सबसे नीचे लाल रंग की पट्टी थी जिस पर सूरज और चांद बने हुए थे।


अब ये झंडा पुणे की केसरी मराठा लाइब्रेरी में संरक्षित करके रखा गया है।

मैडम कामा पर किताब लिखनेवाले रोहतक एम.डी. विश्वविद्यालय के सेवानिवृत्त प्रोफ़ेसर बी.डी.यादव लिखते हैं, "उस कांग्रेस में हिस्सा लेनेवाले सभी लोगों के देशों के झंडे फहराए गए थे और भारत के लिए ब्रिटेन का झंडा था, उसको नकारते हुए भीकाजी कामा ने भारत का एक झंडा बनाया और वहां फहराया।


अपनी किताब, 'मैडम भीकाजी कामा' में प्रो.यादव बताते हैं कि झंडा फहराते हुए भीकाजी ने ज़बरदस्त भाषण दिया और कहा, "ऐ संसार के कॉमरेड्स, देखो ये भारत का झंडा है, यही भारत के लोगों का प्रतिनिधित्व करता है, इसे सलाम करो।

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0