गुच्चुपानी- जगह रोमांचक और सुहानी

गुच्चुपानी- जगह रोमांचक और सुहानी
गुच्चुपानी- जगह रोमांचक और सुहानी

मेरा शहर देहरादून शिक्षा का गढ़ तो है ही साथ ही साथ अपने पर्यटन-स्थलों के लिए भी प्रसिद्ध है। प्राकृतिक सौन्दर्य से भरपूर अनेक स्थान ऐसे हैं जहाँ से वापस जाने का आपका दिल ही नहीं करेगा। एकबार आकर देखिये तो यहाँ, आप यहीं के होकर रह जायेंगे। यहाँ के मन्दिर, पशु-पक्षी अभयारण्य, ट्रैकिंग के रास्ते जो दिल की धड़कनें भी तेज करते हैं और आँखों को सुकून भी देते हैं, अम्यूजमेंट पार्क जिनका आनन्द आप सपरिवार ले सकते हैं। आईये आपको अपने यहाँ के प्रमुख दर्शनीय-स्थानों के बारे में बताती हूँ -

एफ. आर. आई.- वन अनुसंधान संस्थान, जो हमारे देश का सबसे बड़ा प्रशिक्षण संस्थान है। अधिकांश वन अधिकारी यहाँ से ही प्रशिक्षित होकर जाते हैं। ग्रीक-रोमन वास्तुकला से निर्मित इसका भवन बहुत ही खूबसूरत है। इसके मुख्य भवन को राष्ट्रीय विरासत घोषित कर दिया गया है। यह एशिया का अकेला संस्थान है जिसमें तिब्बत से लेकर सिंगापुर तक के विभिन्न प्रकार के पौधे हैं, इसमें एक संग्रहालय भी है जो अपने आप में जानकारियों का खजाना है।

आई. एम. ए.- इंडियन मिलीटरी एकेडमी जहाँ से भारत माँ की सेवा के लिए जाँबाज़ सेना अधिकारी प्रशिक्षण पाकर देश का मान बढ़ाते हैं। इसका भवन भी बेहद खूबसूरत है, अनुशासन और आत्मसंयम का मन्दिर है यह भवन।कलंगा स्मारक- ब्रिटिश और गोरखाओं के मध्य हुए युद्ध की याद में बना है जो गोरखाओं की बहादुरी की मिसाल है।

कालसी- एक खूबसूरत जगह है जो अपना ऐतिहासिक महत्व भी रखती है। सम्राट अशोक के पत्थर के शिलालेख यहाँ मौजूद हैं जिसे एक सुन्दर और शान्त पर्यटन-स्थल के रूप में विकसित किया गया है।

राजाजी नेशनल पार्क- यह एक बेहद रोमांचक जगह है जहाँ आपको विभिन्न प्रजातियों के जानवरों के दर्शन हो जायेंगे, विशेषतः हाथियों के लिए यह बहुत मशहूर है।

मालसी डियर पार्क- एक प्राकृतिक सौन्दर्य से भरपूर जगह है जहाँ तरह-तरह के पशु-पक्षी हैं।आसन बैराज- यमुना और आसन नदियों के संगम पर स्थित एक दलदली झील है जहाँ आप बोटिंग का आनन्द उठाते हुए प्रवासी पक्षियों के कलरव को भी देख सकते हैं।

सहस्त्रधारा- यह देहरादून का एक प्रसिद्ध स्थान है जो सल्फर के पानी और प्राकृतिक झरनों के लिए जाना जाता है।

गुच्चुपानी- शहर की भीड़भाड़ से दूर एक प्राकृतिक गुफा है जिसे रॉबर्स केव भी कहा जाता है। गुफा के अन्दर जाने पर उसमें बहता पानी पैरों को सुखद अहसास देता है। कभी-कभी हल्के गर्म पानी की लहर भी मसहूस होती है। यहाँ आने पर बहुत सावधान रहने की आवश्यकता है क्योंकि यहाँ का जलस्तर अचानक बढ़ जाता है इसलिए गुफा में ज्यादा अंदर नहीं जाना चाहिए। थोड़ी खतरनाक है पर मेरी पसंदीदा जगह है।

मालदेवता, कटा पत्थर आदि अनेक पिकनिक के लिए खूबसूरत स्थान हैं जहाँ आप खाना वहीं बनाकर खाने का आनन्द ले सकते हैं और नदी में स्नान का मजा भी। देहरादून के पर्यटन स्थलों की सूची अभी लम्बी है। आईये और आनन्द लिजिये मेरे शहर के सौन्दर्य का।

   
~सुमेधा, 
स्वरचित, मौलिक।
#मेरेशहरमेरीपहचान

What's Your Reaction?

like
1
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0