जापान के स्कूलों में लड़कियों के पोनीटेल बनाने पर बैन क्योकिं पोनीटेल में लड़कियों को देखकर उत्तेजित होते हैं लड़के !

जापान के स्कूलों में लड़कियों के पोनीटेल बनाने पर बैन क्योकिं  पोनीटेल में लड़कियों को देखकर उत्तेजित होते हैं लड़के !

हमारे देश भारत में अधिकतर देखा जाता है कि लड़कियों पर तरह तरह की पाबंदियां लगाई जाती हैं कभी रेप मामले में कोई भी नेता महिलाओं के कपड़ों पर आपत्ति जताने लग जाता है तो किसी को महिलाओं के बाहर निकलने के समय से दिक्कत होने लगती है।

 

असल मुद्दे पर कोई बात ही नहीं करना चाहता है सब घूम फिरा के लड़कियों पर नियम लागू कर देते है। 

लेकिन यह कहना कि ऐसा लड़कियों के साथ केवल हमारे देश में होता है गलत होगा जापान जैसे विकसित देश में लड़कियों पर यह कैसी पाबंदी लगाई जा रही है जिसे सुनकर आप भी आश्चर्यचकित हो जाएंगे जापान के ज्यादातर स्कूलों में लड़कियों पर ऐसे-ऐसे प्रतिबंध लगाए जा रहे है जिसे सुनकर आपका भी खून खोल उठेगा और सोच में चले जाएंगे कि आखिर ऐसे कैसे हो सकता है? 


जापान जैसा विकसित देश महिलाओं और लड़कियों के लिए ऐसी सोच रखता है यह विश्ववास करना भी कठिन सा लग रहा है।

जापान के स्कूलों में ऐसा पहली बार नहीं हो रहा बल्कि इससे पहले भी तमाम तरह के प्रतिबंध लागू किए गए हैं ,यहां जुराबों की लंबाई से लेकर अंडरवियर के कलर तक पर नियम बनाए गए हैं।


जापान के स्कूलों में केवल पोनीटेल और रंगीन अंडरवियर पर ही प्रतिबंध नहीं है. स्कूल बच्चों के मोजे के रंग, स्कर्ट की लंबाई और यहां तक कि उनकी भौहों के आकार पर भी प्रतिबंधों को भी लागू करते हैं।

शिक्षा जगत के कई लोगों को मानना है कि पोनीटेल पर रोक लगाना लिंगभेद के समान है और ये कहीं न कहीं छात्राओं की अभिव्यक्ति के अधिकार को कमजोर करता है।

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0