कहीं आप भी अपने साथ ये गलतियाँ तो नहीं करती?

कहीं आप भी अपने साथ  ये गलतियाँ तो नहीं करती?


अपनी त्वचा व बालों की सफाई और सुरक्षा के लिए लोगों में जागरूकता बढ़ रही है फिर भी कभी कभी अन्जाने में ही सही परन्तु हम कुछ गलतियाँ कर बैठते हैं, क्योंकि हमें कुछ बातों का पता ही नहीं होता है।

बालों से प्रारंभ करते हैं।


बाल धोना-

हम सप्ताह में दो से तीन बार शैम्पू करते हैं परन्तु शैम्पू सही तरीके से नहीं कर पाते।

बालों के लिए जितना शैम्पू आवश्यक है उतना ही एक मग में निकाल कर उसमें थोड़ा पानी मिला कर अच्छी तरह मिलाएँ और फिर इसे गीले बालों पर लगा कर हल्के हाथों से पूरे सिर में मलिए, फिर धो दीजिए।

जबकि हम या तो शैम्पू को सीधा ही सिर में एक जगह पर उड़ेल कर फिर झाग बनाते हैं या हथेली पर निकाल कर बालों में फैलाते हैं। दोनों ही तरीके ठीक नहीं माने जाते क्योंकि एक ही जगह पर अधिक शैम्पू लगने से बालों में रूखापन बढ़ सकता है।


पोंछना-

बालों को प्रायः लोग मोटे तौलिए से रगड़ रगड़ कर पोंछते हैं और फिर उस तौलिए को बालों में लपेट कर कुछ देर के लिए छोड़ भी देते हैं। मोटे तौलिये का इस प्रकार प्रयोग बालों के टूटने की वजह बन सकता है। गीले बालों पर लपेटने के लिए स्वच्छ, नरम मुलायम सूती कपड़े का प्रयोग बेहतर है। आप कोई पुराना कुरता उपयोग में ला सकती हैं। इससे बाल मुलायम रहेंगे।


कंघी करना-

गीले बालों को कंघी करके सुलझाना आसान लग सकता है पर ये आदत बालों के टूटने झड़ने की बड़ी वजह है। इसे बदलिए, और बालों को पूरा सूख जाने के पश्चात ही मोटे दाँतों वाली कंघी से आराम से सुलझाइए।


भोजन-

आजकल फास्टफूड का चलन बहुत बढ़ गया है। आपके स्वास्थ्य पर तो इसका दुष्प्रभाव दिखने में आता ही है साथ ही ये आपकी त्वचा पर भी दुष्प्रभाव छोड़ते हैं। त्वचा की चमक कम करने के अतिरिक्त ये मुहाँसों आदि के लिए भी जिम्मेदार हैं। अतः कभी कभी सब कुछ खाइए परन्तु फास्टफूड के अधिक सेवन से बचिए।


गैजेट्स का अत्यधिक प्रयोग-

आजकल इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स का उपयोग बहुत अधिक बढ़ गया है। जिसकी वजह से आँखों पर बहुत जोर पड़ता है, आँखों की रोशनी पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है साथ ही काले घेरों जैसी समस्या सामने आती है। अतः आवश्यकता से अधिक इन गैजेट्स के उपयोग से बचना चाहिए।



अर्चना सक्सेना

What's Your Reaction?

like
2
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0