क्या आप जानते हैं, धनतेरस के दिन सोने ,चांदी और बर्तन के अलावा एक और चीज भी खरीदना शुभ माना जाता है ?

क्या आप जानते हैं, धनतेरस के दिन सोने ,चांदी और बर्तन के अलावा एक और चीज भी खरीदना शुभ माना जाता है ?

हिंदू धर्म के अनुसार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को धनतेरस मनाई जाती है , इस वर्ष ये पर्व 2 नवंबर को है।

हर साल इस मौके पर सर्राफा व बर्तनों के बाजारों में बहुत भीड़ रहती है. इस दिन सोना-चांदी खरीदना शुभ माना जाता है। इसके अलावा इस दिन घर के बर्तन खरीदने की भी परंपरा है।

धनतेरस का अवसर वह दिन है जो दिवाली की शुरुआत का प्रतीक है जब भगवान कुबेर और देवी लक्ष्मी की पूजा की जाती है। यह अवसर धन और समृद्धि का प्रतीक है और इसलिए, इस दिन को सोना, चांदी और बर्तन खरीदने के लिए शुभ माना जाता है। सोने में निवेश करने वाले व्यापारियों के लिए यह दिन बहुत महत्व रखता है। 

भारत में सोने-चांदी की खरीदारी के लिए धनतेरस हमेशा एक शुभ अवसर रहा है। 

एक पुरानी पौराणिक मान्यता के अनुसार, राजा हिमा ने मृत्यु के देवता यम को सोने और चांदी के ढेर से बहला-फुसलाकर भगा दिया था। राजा की पत्नी ने धन के ढेर से शयन कक्ष को बंद कर उसकी जान बचाई। तब से, इस दिन सोना या चांदी खरीदना शुभ माना जाता है क्योंकि ऐसा माना जाता है कि यह बुराई और मृत्यु को दूर रखता है।

मान्‍यता है कि धनतेरस के दिन समुद्र मंथन से भगवान धनवंतरि सोने का कलश लेकर उत्पन्न हुए थे. धनवंतरि के उत्पन्न होने के 2 दिन बाद समुद्र मंथन से लक्ष्मी जी प्रकट हुई थीं इसलिए दीपावली से 2 दिन पहले धनतेरस का त्योहार मनाया जाता है और इसलिए इस दिन सोना या फिर बर्तन खरीदना शुभ माना जाता है।

कहा जाता है कि धनवंतरि विष्णु भगवान के अंश हैं और वो देवताओं के वैद्य हैं. इनकी पूजा करने से स्वास्थ्य लाभ होता है. धार्मिक मान्‍यता है कि संसार में विज्ञान और चिकित्सा के विस्तार के लिए भगवान विष्णु ने धन्वंतरि का अवतार लिया था।

इसके अलावा धार्मिक मान्यता के अनुसार धनतेरस के दिन एक और चीज खरीदना भी शुभ माना जाता है ।

धनतेरस के दिन झाड़ू खरीदना भी शुभ माना जाता है।

कहा जाता है कि धनतेरस के दिन झाड़ू खरीदने से घर में लक्ष्मी का वास होता है और आर्थिक तंगी से छुटकारा मिलता है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार झाड़ू को माता लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है, उसमें मां लक्ष्मी का वास होता है, इसलिए धनतेरस के दिन झाड़ू खरीदकर लाई जाती है ।

झाडू पर पैर से लगने से माता लक्ष्मी का अनादर माना जाता है।

तो इस बार ज़रूर धनतेरस पर झाङू खरीदें और लक्ष्मी जी को प्रसन्न करें।

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0