क्या आपने वैक्सीन लगवाई? #ज्ञानीमंगलवार

क्या आपने वैक्सीन लगवाई? #ज्ञानीमंगलवार

"क्या जरूरत थी मम्मी को वैक्सीन लगवाने की।" निर्मला दीदी फ़ोन पर बड़ी भाभी पर भड़क रही थी।माँ जी को कोविड वैक्सीन लगवाने के हफ्ते भर बाद फिर से बुखार हो गया था जो उतर ही नही रहा था।


"दीदी वैक्सीन तो लगवानी जरूरी है।आप भी लगवा लीजिये अब तो 45+को वैक्सीन लगना शुरू हो गया है" भाभी ने विनम्रता से कहा


"मम्मी वैसे ही डायबिटीज की मरीज है ये वैक्सीन इंसान को और बीमार कर देती है ।कही आते जाते तो है नही मम्मी पापा घर पर ही रहते है क्या जरूरत थी । मैंने व्हाट्सएप पर फॉरवर्ड भी भेजा था कि ये वैक्सीन सही नही है, इससे और परेशानी होती है। हम तो बिल्कुल नही लगवाएंगे।"


दीदी ने खूब गुस्सा करते हुए फ़ोन रख दिया।रात में जब माँ जी ने सांस लेने में तकलीफ की बात की तो सब के हाथ पैर फूल गए। उन्हें तुरंत हॉस्पिटल ले गए। भगवान की कृपा से कुछ प्रयासों से बेड मिल गया। सी टी स्कैन में कोरोना की पुष्टि हुई। माँजी डायबिटीज की मरीज और डिप्रेशन की भी परेशानी थी। सभी डर और हताशा में थे। दीदी ने तो कोई कसर न छोड़ी कोसने में।


"वैक्सीन लगाने के बाद कैसे हो गया कोरोना। न वैक्सीन लगवाते न बुखार आता न ये नौबत आती। वैक्सीन में वायरस ही डालते है अंदर .तुम लोग को कुछ ज्ञान नही...मेरी माँ को कुछ नही होना चाहिए।"


सभी और घबरा गए जब माँ जी को ऑक्सिजन लगाने की जरूरत आन पड़ी।10 दिनों तक कोरोना से लड़ने के पश्चात आखिर माँ जी 70 वर्ष की उम्र में कोरोना को हराकर स्वस्थ होकर घर आ गयी। डॉ का मानना था कि उनके रिकवर होने में वैक्सीन लगने का बड़ा हाथ था। भैया भाभी की जान में जान आई।


पर कहानी अभी बाकी है। माँजी तो स्वस्थ होकर घर आ गयी। पर उधर निर्मला दी कि सासूमाँ कोरोना पॉजिटिव होकर हॉस्पिटल में एडमिट हो गयी। कुछ दिन बाद निर्मला दी भी कोविड पॉजिटिव हुई। और 1 हफ्ते के अंतराल में दोनों का निधन हो गया। काश निर्मला दी ने वैक्सीन लगाई होती तो शायद वो हमारे बीच होती।


दोस्तों वैक्सीन जरूर लगवाये। इसको नजरअंदाज ना करें।और व्हाट्सएप फॉरवर्ड पर बिना जांच पड़ताल बिल्कुल भरोसा न करे।पिछले साल की तुलना में पुलिस और फ्रंट लाइन वर्कर्स में कोविड पॉजिटिव केस ना के बराबर सुनाई दे रहे है। इसका एक महत्वपूर्ण कारण सभी को वैक्सीन लगना है।वैक्सीन ही एक मजबूत जरिया है अब तक कोविड 19 से मुकाबला करने का। जितनी जल्दी हो सके वैक्सीन लगवाये।


मैंने तो पहली डोज़ लगवा ली और आपने??

प्रियंका फुलोरिया


What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0