महिलाओं के लिए सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला

महिलाओं के लिए सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला

सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, महिलाओं को सेना में स्थायी कमीशन और कमांड पोस्टिंग मिलेगी। असल में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि सेना में महिलाओं को अभी कमांडर जैसे पद देना अभी ठीक नहीं होगा। उसके मुताबिक सेना में ग्रामीण पृष्ठभूमि से आने वाले पुरुषों की एक बड़ी संख्या है जो अभी किसी महिला की अगुवाई में चलने के लिए मानसिक रूप से तैयार नहीं होंगे। केंद्र ने परिवार के मोर्चे पर महिलाओं की ज्यादा जरूरत और युद्ध की स्थिति में उन्हें बंदी बनाए जाने के जोखिम का भी हवाला दिया।

केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि सेना में ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले पुरुषों की एक बड़ी संख्या है जिन्हें महिलाओं की अगुवाई में चलने में हिचकिचाहट होगी। महिला अधिकारों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाया है।

जस्टिस डीवाई चंद्रचूड और जस्टिस अजय रस्तोगी की एक बेंच ने कहा कि केंद्र को महिला अधिकारियों को कमांड पोस्टिंग भी देनी होगी और स्थायी कमीशन भी। उसने कहा कि जिन महिला अधिकारियों ने सेवा में 14 साल से ज्यादा का समय दिया है।

उन्हें स्थायी कमीशन न देने का उसे कोई कारण समझ में नहीं आता। कोर्ट ने कहा कि कमांड पोस्‍ट पर महिलाओं को आने से रोकना समानता के विरुद्ध है कहा कि महिलाओं को समान मौके से वंचित रखना अस्‍वीकार्य और परेशान करने जैसा है।

अनु गुप्ता
Pink Columnist (Uttar Pradesh)

Image Credit @DailyHunt

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0