मौनी रॉय ने शादी की तस्वीरों के साथ सप्तपदी मंत्र क्यों शेयर किया?

मौनी रॉय ने शादी की तस्वीरों के साथ सप्तपदी मंत्र क्यों शेयर किया?

27 जनवरी 2022 मौनी रॉय की जिंदगी के लिये एक यादगार तारीख बन गई है. काफी इंतजार के बाद मौनी रॉय और सूरज नांबियार शादी के बंधन में बंध गये।

मौनी रॉय और सूरज नांबियार की शादी दो रीति-रिवाजों के हिसाब से हुई है. सूरज नांबियार साउथ इंडियन हैं. इसलिये पहले दोनों की शादी साउथ इंडियन कल्चर को ध्यान में रख कर हुई. इसके बाद मौनी रॉय और सूरज नांबियार ने बंगाली परंपरा से भी शादी की।

मौनी रॉय की शादी की फोटोज और वीडियोज इस वक्त सोशल मीडिया पर छाए हुए हैं.चाहे साउथ इंडियन ब्राइड का लुक हो या बंगाली दुल्हन का रूप मौनी दोनों ही तस्वीरों में बेहद खूबसूरत नजर आ रही हैं।

हिंदू धर्म में किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत से पहले भगवान गणेश की पूजा होती है. इसलिए शादी के मंत्रों की शुरुआत भी गणेश जी की वंदना के साथ होती है।

मौनी रॉय ने इंस्टाग्राम पर सूरज नांबियार संग शादी के कई वीडियो और फोटो शेयर किए हैं. इस बीच उन्होंने सप्तपदी मंत्र के साथ अपनी शादी की फोटो शेयर की है।

 ये तस्वीरें मंडप की हैं, जहां वो सूरज संग सात वचनों को निभाते हुए सात फेरे ले रही हैं।

मौनी रॉय ने इंस्टाग्राम पर शेयर किया ये सप्तपदी मंत्र-

सखायौ सप्तपदा बभूव ।
सख्यं ते गमेयम् ।
सख्यात् ते मायोषम् ।
सख्यान्मे मयोष्ठाः ।

 इस मंत्र का अर्थ -

ज्योतिषाचार्य बताते है  कि इस मंत्र का अर्थ है "तुमने मेरे साथ मिलकर सात कदम चले हैं इसलिए मेरी मित्रता ग्रहण करो. हमने साथ-साथ सात कदम चले हैं, इसलिए मुझे तुम्हारी मित्रता ग्रहण करने दो. मुझे अपनी मित्रता से अलग होने मत देना."

सप्तपति मंत्र का अर्थ सात फेरों के सातों वचनों से होता है, जिसे पति-पत्नी के हर फेरे के समय बोला जाता है. पंडित द्वारा बोले गए मंत्र के बाद हर फेरे में पति-पत्नि जीवन भर साथ निभाने और पूरी ईमानदारी से रिश्ता निभाने का वचन देते हैं।

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0