Swarn  Dhiman 'Reena'

Swarn Dhiman 'Reena'

 2 years ago

Follow me for more updates !

Member since Mar 7, 2020

गजरेला और नव‌वर्ष

नव वर्ष का इंतज़ार आजकल तो ऐसे रहता है की किस रिसोर्ट या होटल में बुकिंग हो और कहाँ पार्टी की जाए। लेकिन हमारा बचपन अलग था और नव वर्ष...

और पढ़ें

रसोई तो बस माँ की ही थी।

रसोई तो बस माँ की ही थीहमारे पिताजी अध्यापन में थे, यूँ तो मम्मी भी शुरू से अध्यापन में ही थी लेकिन परिवारिक जिम्मेदारियों के चलते उन्होंने नौकरी छोड़ दी थी लेकिन उसके बाद भी उन्होंने अपने पैशन को फॉलो किया और वो कपड़े सिलने और सिलाई सिखाने का कार्य करने लगी

और पढ़ें

Hey Father Christmas

Hey Father Christmas, Here comes the Christmas eve, Let me decorate the tree with bells & rings. The whole year I've dreamt of this...

और पढ़ें

मेरा अधूरा सपना

कभी कभी हम इस कदर अनुगृहीत हो जाते है,   आभार जताना चाहें तो लफ्ज कम पड़ जाते हैं।   पिंक कामरेड मंच 'पहचान' दे रहा कितनो को- यहां आकर सबके अधूरे सपने पुरे हो जाते हैं।। 

और पढ़ें

Increasing stress causing health issues.

On 6th December, I got a strain in my right shoulder and then started the whole drama of rushing from one doctor to another. During...

और पढ़ें

पाँच शहर पाँच नौकरियां

MBA  करने के बाद से कार्यरत हूँ इस बीच कईं उतार चढ़ाव आये। 2003 में मेरा विवाह अम्बाला में हुआ और उस समय घरवालों के कहने पर जॉब छोड़...

और पढ़ें

बिटिया रानी

परियों जैसी माँ की बिटिया रानी, कलम पुस्तक की है वो दीवानी।   छोटा सा मन पर ऊँची अभिलाषा, अनुशासित जीवन की वो परिभाषा।

और पढ़ें

हंसीं से ही दमकती रहती हूँ I

आवाज देकर पुकारती रहती हूँ , रूठों की राह निहारती रहती हूँ I आँखों से गिरकर न बिखरे कहीं , अश्कों के मोती संभालती रहती हूँ I

और पढ़ें

काला काला हलवा #यादों_की_गरमाहट

देहरादून कीसर्दी,  और  मेरे जैसी वर्किंग मम्मा जो अभी तक खाना बनाने में लर्निंग मोड पर ही थी, तो एक रात तकरीबन 10  बजे मेरी चार साल की बेटी फरमाइश कर बैठी हलवा खाने की I हलवा मुझे आता था लेकिन बेसन का हलवा ? ओह्ह्ह ,...

और पढ़ें