Happy {vani} Rajput

Happy {vani} Rajput

 1 year ago

Simple yet effective

Member since Jun 4, 2020

Following (2)

Followers (7)

क्या तुम मुझ पर विश्वास करोगी माँ

"माँ कहाँ हो तुम। जल्दी आ जाओ...आज बहुत कुछ बताना है तुमको पर कैसे कहूँ...." सतरह साल की रेनू आज अपनी चुप्पी तोड़ना चाहती थी मगर कुछ...

और पढ़ें

मम्मा आप डरते हो...

आज छत पर अंधेरी रात में टहलते हुए नैना को केवल उसके सात साल के बेटे रूद्र द्वारा पूछा गया सवाल उसके कानों में गूंज मानो उसके दिल की...

और पढ़ें

पाँच जानदार रस्में ही हों केवल परंपरा का...

परंपरा ऐसी होनी चाहिए जो वर वधू के साथ दोनों परिवारों के दिलों में भी खुशियाँ लाए। सदियों से जो पीढ़ी दर पीढ़ी चली आ रही रस्में ही परंपराओं...

और पढ़ें

उम्मीद वाली परंपराएं.... आखिर क्यों??

दोस्तों मैं ये तो नहीं जानती कि आप मेरे इस लेख को किसी परंपरा के अंतर्गत देखेंगे या नहीं मगर मेरी नज़र में ये एक परंपरा जैसी ही है...

और पढ़ें

हाँ!! मुझे भी इश्क हुआ...

रोज सुबह जब आइना देखूँ  कुछ पल खुद को निहारे जाऊँ चमकते गालों की लालिमा देखूँ फिर खुद ही खुद से शरमाऊँ

और पढ़ें

सच्चा इश्क!!

डाक्टर प्लीज़ मेरे पति क्लीनिक पर आने में असमर्थ हैं उनको तीन दिन बहुत तेज़ ज्वर आ रहा है। उल्टियाँ भी हो रही हैं। प्लीज़ आप चलिए मेरे...

और पढ़ें

तो मैं मीठा तो खा ही सकती हूँ!!

"चलो चलो जल्दी चलो सब लोग हनुमान मंदिर में दर्शन करने चलना है। समय हो गया है और खबरदार किसी भी बहू ने कुछ भी मुंह में अन्न डाला तो।"कहते...

और पढ़ें

मूर्ति बन जाती हैं

"अरे सुगंधा पूजा की थाल ले जा....थोड़ा तो जल्दी हाथ चला ले...अभी ताई सास का बोलना शुरू हो जाएगा... जल्दी कर" सुगंधा की सास गीता जी...

और पढ़ें

हाँँ! मैं काफी हूँ

सुरज से पहले मैं जग जाती स्व का दर्शन खुद को कराती खुद से खुद को मिलवाती और खुद से कहती हाँ! मैं काफी हूँ मैं नारी हूँँ

और पढ़ें

पैसों की विद्या - कितनी सच

आज की विद्या, पैसों की विद्या मोल दे कर आती विद्या जो चुके मोल तो विद्या मिले न चुके तो विद्या बिन भिक्षा मिले आज की विद्या, पैसों...

और पढ़ें