Keerti Jain

Keerti Jain

 1 year ago

A homemaker and a hobby writer

Member since Apr 2, 2020

Following (0)

Followers (2)

जब डर की जगह प्यार ने ली

चावल से भरे कलश को गिरा कर मैंने ससुराल में मंगल प्रवेश किया ।थोड़ी देर बाद रस्मों का सिलसिला शुरू हुआ ।चेहरेपर मुस्कान तो मैंने ओढ़...

और पढ़ें

कठपुतली बोल उठी

आज घर पर सासू माँ ने नवरात्रि की पूजा रखी थी ।घर की इकलौती बहू होने के कारण ,अत्यधिक अपेक्षाओं सेघिरी मैं सुबह से फिरकनी की तरह पूजा...

और पढ़ें

हाँ नहीं हूँ मैं चाँद जैसी

है होंठों पर मुस्कान पर दिल में ग़मों का मेला है , पर साँवली -सलोने रूप पर अपने मुझे नाज़ है गुण ,विश्वास ,होंसला मेरे सरगम के साज़...

और पढ़ें

ज़िंदगी और मौत एक चमत्कार

ज़िंदगी और मौत से झूझते अरनव को बस एक चमत्कार ही जीवन दान दे सकता था ।हॉस्पिटल में बीतता एक -एक पलपलक को युगों के समान लग रहा था ।भगवान...

और पढ़ें

मोगरे का गजरा

एक तो मूड ख़राब ऊपर से सारी बातें आग में घी का काम कर रहीं थीं ।बड़बड़ाते हुए सामनेबैठे मोची के पास अपनी चप्पल बनवाने पहुँची ।मोची...

और पढ़ें

सुकून के कुछ पल मैं भी जीना चाहती हूँ #Thursday...

तुम्हारे घर में एक छोटा सा कोना चाहती हूँ सुकून के कुछ पल मैं भी जीना चाहती हूँ , भले ही पूरा घर तेरा मेरा....हमारा होगा पर सिर्फ़...

और पढ़ें