Priya kumaar(priyanka gahalaut)

Priya kumaar(priyanka gahalaut)

 2 years ago

Member since Dec 14, 2020

Following (1)

Followers (2)

मुझे खुद से इश्क़ हुआ नया नया!

बीता खुशगवार लम्हा हर कोई जीना चाहता..  मैं तो हर लम्हें को बस जीना चाहती हूँ..  डूबते आफ़ताब सी तसल्ली भरी थकान हो.. 

और पढ़ें

इश्क़ -इक इंतजार

तुझे तो बस खेल कूद की ही पड़ी रहती है,, अच्छा!! सुन वो तेरी लीलो बुआ है ना, उनके बड़े बेटे की शादी है इसी महीने 14 फ़रवरी को,, हम सभी...

और पढ़ें

सम्मान मेरा जहाँ नहीं उस ठाँव का करती हूँ...

चुभती हूँ ना तुम्हारी आँखों में रेत के कण सी  क्युकी करती हूँ अब खुल के बातें और इज़हार.. आखिर ज़ब तुम्हे नहीं होता मुझ पर यकीं.. तो...

और पढ़ें

मुट्ठी भर स्वप्न

मेहंदी रचे दोनों हाथ.  पैरों में महावर भी साथ..  चूड़ियाँ पहनी चटख लाल..  होंठो को रंगती लाली लाल.. 

और पढ़ें

ग्रीटिंग कार्ड्स

मैं हूँ खास तुम हो खास कितने.. ये बताता था एक ग्रीटिंग कार्ड. मैं हूँ याद तुम हो याद इतने.. याद दिलाता था एक ग्रीटिंग कार्ड..

और पढ़ें

हो कर विपरीत..रहते है समीप

तुम खामोश किताब..  सब एहसास जब्ज़ किये रहते हो..  मैं मगर किसी वाद्ययंत्र सी  ज़ज़्बात अपने कह जाती हूँ..  तुम्हे नहीं आता जतलाना  बस...

और पढ़ें