Sarika Rastogi

Sarika Rastogi

 2 days ago

I am a blogger and writer .I want to spread smiles on beautiful faces by writng.????????

Member since Mar 19, 2020 [email protected]

मेरी प्रिय पुस्तक श्रीमती सुभद्राकुमारी...

सुभद्रा जी की कहानियों की विषेशता  यह है कि इनकी भाषा बहुत ही सुलझी ,साफ सुथरी सरल और सहज है।जब कोई भी कहानी हम पढ़ते हैं तो उस कहानी...

Read More

हिन्दी तुम बिन अधूरी मैं

अपने देश वहाँ की भाषा,सभ्यता और संस्कृति से प्रेम करने वाली लड़की की कहानी।

Read More

कवयित्री लेखिका व स्वतन्त्रता सेनानी मेरी...

सुभद्रा कुमारी चौहान जितना उनको पढ़ा उनके लिये मन में श्रद्धा और सम्मान बढ़ता गया उनसे हिन्दी साहित्य को सीखने की इच्छा और प्रबल हो...

Read More

रही मैं आपकी बहू माँ कभी बेटी न बन पाई

बहुत कोशिश की माँ मैं मम्मी जी से "माँ" पर आऊँ अपने छोटे छोटे सुख दुख आपसे बयाँ कर पाऊँ बनूँ रामायण की उरमिला जैसी भले ही सिय न बन...

Read More

अच्छा लगता है

सुबह की हड़बड़ी में समेटे नही हैं बिस्तर  जो चाय लेकर वह आये  ,कमरा हो सिमटा सिमटा  तो अच्छा लगता है।

Read More

दर से पहले दिल में सहारे का बिछौना चाहती...

एक स्त्री का जब अपने पति से सानिध्य छूटता है तब वह अपने मायके और ससुराल से हृदय से सामीप्य चाहती है ।वह उम्र चाहे चालीस हो या पचास...

Read More

मन के शोर को मन में रखा करती हूँ

मन के शोर को मन में रखा करती हूँ हाँ अक्सर मैं चुप रहा करती हूँ।

Read More

ईद का चाँद एक प्रेमकथा

पल्लवी अमीर खानदान की इकलौती बेटी और एक भाई। अपनी ताई की बेटी की शादी में गई और दिल दे बैठी उनके देवर को। पूरी शादी में दो दिल" दीदी...

Read More

दूध का जला छाछ भी फूंक फूंक कर पीता है बेटा

अरे ! ये क्या कह रहे हैं शर्मा जी आप ,,,कोई भूल हो गई हमसे या रिया से।ऐसा है तो हम मिल ही लेते हैं।तीन -चार घंटे का ही सफ़र है ,मैं...

Read More

माँ की चोरियां

कल्पना करिये एक गांव में ब्याही स्त्री जहाँ उसकी खुद की कदर एक काम करने वाली काया से अधिक कुछ नही ।क्या उसकी बच्ची को मिलते होंगे...

Read More