Sarika Rastogi

Sarika Rastogi

 2 years ago

जज्बातों को काबू करना हो या व्यक्त करना हो खुद को,,,, मैं लिख लेती हूँ ,,,,लेखन पूजा है मेरे लिए जिसके बिना सुकून नहीं !!

Member since Mar 19, 2020

सम्पूर्ण हुआ मेरा अस्तित्व जब पहली बार सुना...

शादी के बाद हर स्त्री चाहती है कि उसको पूरे परिवार का स्नेह  व ममता मिले। जितना ममत्व  दुलार और अपनापन वह अपने परिवार को देती है उतना...

और पढ़ें

मेरे घर का मान हो तुम

शचि नख शिख श्रंगार कर खुद को आईने मे देख रही थी ।बड़ी बड़ी आँखे ,सुती सी नाक,पंखुड़ी से होंठ और  गेहुंआ सांवला सा रंग। हाँ ,,,अपने...

और पढ़ें

माँ,यहाँ काजू कतली तो है ही नही!

सुबह के पाँच बजे और मेरी डोली,,,,,,,न न न डोली नही मारूती कार ससुराल आकर रुकी।माँ के आंगन की बिछुड़न और नई दुनिया से मिलन । विदाई...

और पढ़ें

भाभी,मैं हूँ न !

ये वाला सूट अनु के लिये, सादगी ने सूट अपनी तरफ लगभग खींचते हुए अपने पति गौरांश से कहा। अरे बाबा  ये रखना है ये रख लो नही तो कोई दूसरा...

और पढ़ें

जब मैं गई मम्मी पापा के साथ पहली बार नैनीताल

कहते हैं न कुछ किस्से,कुछ लम्हे,कुछ बातें आपके जीवन पर अमिट छाप छोड़ जाते हैं और जिसे आप जिंदगी भर नही भूल पाते ।ऐसे ही मेरे जीवन...

और पढ़ें

केरल की ट्रिप और हाय रे ये अंग्रेजी !

काव्या आज बहुत खुश थी आखिर इतने सालों बाद उसका केरल घूमने का सपना जो पूरा होने जा रहा था ।उसका मन बार बार इस कल्पना से ही रोमांचित...

और पढ़ें

जब अधूरा मातृत्व हुआ पूरा

दो जुड़वाँ बच्चों की माँ नन्दनी। नन्दनी की नन्द प्रज्ञा जब भी मायके आती ,उसको तो मानो पर लग जाते।दोनो बच्चे भी अपनी बुआ से इतने घुले...

और पढ़ें

वो खुशखबरी और सासू माँ का असीम प्यार

दो तीन दिन से मन अजीब सा हो रहा था,न काम में मन लग रहा था न शरीर में फुर्तीलापन ।सासू मां भी देख रहीं थीं कि हर समय इधर उधर फुदकने...

और पढ़ें

छूना न ,छूना न अब तुम बड़ी हो गईं

छूना न छूना न छूना न,,,,,छूना न अब तुम बड़ी हो गईं। ये  धुन सुनते ही मशहूर अभिनेत्री की सुपर हिट फिल्म डर्टी का गाना हमारे सामने घूम...

और पढ़ें

अरे!इसमें रोने की क्या बात है।

जिंदगी में कई एहसास ऐसे होते हैं जिन्हे हम ताउम्र नही भूल पाते और एक लड़की की जिंदगी में ये खूबसूरत एहसास कई बार होते हैं जैसे पहली...

और पढ़ें