Seema Sharma Srijita

Seema Sharma Srijita

 2 years ago

मन के भावों को शब्दों में जड़ती हूं कुछ इस तरह मैं अपनी कविता ,कहानी लिखती हूँ |

Member since Apr 1, 2020

तुम मिले गुल खिले

मेरे प्यारे पिंक कॉमरेड,  जब भी तुमसे मिलती हूं तो मन बस यही गीत गुनगुनाता है "तुम मिले, गुल खिले और जीने को क्या चाहिए |"सच तो है...

और पढ़ें

मुस्कराती हूँ अब मैं

कल्पनाओं की दुनिया में जाना तो मुझे बचपन से ही पसन्द था |जब भी खुश होती, उदास होती या मन में कोई विशेष भावना जन्म लेती तो चली जाती...

और पढ़ें

तुम ही समझ लो ना

तुम्हारी पनाहों में ढूंढ लेती हूं  अपने दिल का सुकुन  नाचता है मन का मोर  सुन तुम्हारी धड़कनों की धुन  हर लम्हा बडा़ खूबसूरत गुजरता...

और पढ़ें

कल्पनाओं का आसमान

बना लिया है मैंने कल्पनाओं का आसमान  जो सिर्फ़ मेरा है ,शामिल हैं जिसमें चांद -तारे  ढेर सारे ख्याब और तुम तन्हाई में घंटों बतियाती...

और पढ़ें

सुकुन

फुर्सत के पलों में गुनगुनी धूप में बैठे हों तो अक्सर पुरानी यादों का पिटारा खुल जाता है। और चंचल मन अतीत में न जाने कहाँ-कहाँ तक झाँक...

और पढ़ें

वर्ष 2020 - याद रहेगीं तुम्हारी सीख

प्यारे 2020 जब तुम आये थे तो बडे़ ही उत्साह के साथ हमने तुम्हारा स्वागत किया |चारों तरफ खुशहाली का मौसम था |मुझे आज भी याद है तुम्हारे...

और पढ़ें

करके श्रृंगार पायें सैंया जी का प्यार

त्याग, समर्पण, प्रेम का यह दिन बडा़ ही स्पेशल होता है |लाल चूड़िया, मेंहदी, महावर, लाल जोडा़ पहनकर 16 श्रृंगार करके जब हम महिलायें...

और पढ़ें

ससुराल मेरे साजन का

मीरा जरा देख तो सही सोफे पर कुशन सही से तो लगे हैं कि नहीं |तुने नई बैडशीट बिछा दी कि नहीं |मेरे दामाद जी पहली बार घर आ रहे हैं |सबकुछ...

और पढ़ें

लौकी की बर्फी

प्यारी सखियों मिठाई खाना तो आप सभी को बहुत पसन्द होगा ना |आज मैं आपको बताने जा रही हूं लौकी की बर्फी बनाने की आसान सी विधि,लौकी की...

और पढ़ें

नारी तेरे रूप अनेक

बेटी बनकर जब वो आई  बाबुल का आंगन महका दिया  प्यारी - प्यारी शरारतों से  पूरा परिवार चहका दिया  बाबा की बनी दुलारी वो  मां को प्राणों...

और पढ़ें