सादगी भरा पवित्र बंधन- एक पाती होने वाले दूल्हे के नाम#वेडिंगसीजन

सादगी भरा पवित्र बंधन- एक पाती होने वाले दूल्हे के नाम#वेडिंगसीजन

प्रिय नितिन

 

शुभ आशीर्वाद,

तुम्हारी शादी का कार्ड मिला, वैसे फूफा जी ने मोबाइल पर पहले ही तुम्हारा रिश्ता पक्का होने की बात बता दी थी। नए वैवाहिक जीवन शुरू करने के लिए हम सब की तरफ से ढेर सारी शुभकामनाएं व आशीर्वाद। फूफा जी बता रहे थे कि तुमने लड़की वालों को शादी में बहुत सारे पकवान बनाने और दिखावटी सजावट करने के लिए बिल्कुल मना कर दिया है। मुझे तुम्हारा यह निर्णय उचित लगा इसलिए सोचा की इस पहल के लिए तुम्हें पत्र लिखकर बधाई दूं। अभी तक अपने परिवार में जितनी भी शादियां हुई हैं, उनमें बाहरी दिखावे में बहुत व्यर्थ खर्चा हुआ है।


मुझे मेरी शादी का किस्सा याद आता है, खाने की कई सारी स्टॉल लगाई गई थी।चाइनीज, साउथ इंडियन ,कॉन्टिनेंटल,कई तरह के सलाद,कई तरह की मिठाइयां, हमारी शादी का आधा बजट दावत और सजावट में ही व्यर्थ हो गया था। इससे अच्छा होता कि थोड़ा पैसा बचाकर हम अपने भविष्य के लिए रखते, पर हमारे समय में लड़का लड़की अपनी इच्छाएं खुल के बोल नहीं पाते थे। शादी की सारी व्यवस्था माता-पिता ही करते थे। कई बार तो झूठी शान के लिए लड़की के पिता को कर्ज भी लेना पड़ जाता था।


मेरे विचार से खाना और सजावट ठीक ठाक होना चाहिए। ज्यादा विविधता या थीम पार्टी रखने से पैसा व्यर्थ होता है। विवाह जिंदगी का एक खूबसूरत अवसर है और हर इंसान चाहता है इसे यादगार बनाना, इसके लिए विवाह की रस्मों को और मजेदार ढंग से कर के, संगीत पार्टी को अच्छे से तैयार करके, उन पलों को और खूबसूरत बना सकते हैं। हां अगर किसी के पास ज्यादा धन है तो वह उसके अनुसार खर्च करें, परंतु सिर्फ होड़ और दिखावे के लिए शादी में व्यर्थ पैसा बहाना अनुचित है।


मैं तुम्हारी सोच का पूर्णतया समर्थन करती हूं। तुम्हारे विवाह पर नवजोड़े को आशीर्वाद देने हम जरूर आएंगे।

ढेर सारी शुभकामनाओं के साथ,


तुम्हारी बहन

ऋचा गुप्ता

गाजियाबाद(उ प्र)

# वैडिंगसीजन





What's Your Reaction?

like
6
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0