टैग : फूलबासन बाई

हौंसलों की उड़ान

जगमगाहट के लिए तारों की क्या जरूरत, एक दिया ही काफ़ी है रोशनी के लिए.... गरीबी और ऊपर से भुखमरी किसी अभिशाप से कम नहीं। न जाने कितने ही लोग इस से हारकर अपनी जीवन लीला समाप्त...

और पढ़ें