टैग : family relationships

क्या बुजुर्गों के दुख का कारण बहू बेटे होते हैं ?

पिंक कॉमरेड के मंच से हमने महिलाओं के विचार जानना चाहे की क्या बुजुर्गों के दुखों का कारण बहू बेटे होते हैं ? हमने पूछा कि सखियों आज चर्चा करते हैं बेहद गम्भीर विषय पर ज्यादातर समाज मे यही...

और पढ़ें

जब हो परिवार का साथ

बचपन में मिस्टर शर्मा की बेटी, शादी के बाद मिस्टर गुप्ता की पत्नी इन नामों से हमेशा मुझे संज्ञा दी जाती थी। मेरे मन में एक जद्दोजहद हमेशा ही चलती रहती ,कि मेरी कोई पहचान बने, मेरा कोई नाम हो, सब मुझे मेरे नाम से जानें।काफी...

और पढ़ें

कभी कभी बोलना भी जरूरी होता है !

रूपा , देखने में सुदंर सुशील और सारे सद्गुणों से परिपूर्ण थी |लंबी नाक, सांवला रूप और मछली सी कटीली आँखे उसकी सुदंरता में चार चाँद लगा रहे थे | जब वह शादी होकर पहली बार दुल्हन बनकर ससुराल में आई तब कई औरतों में कानाफूंसी होंने...

और पढ़ें

बड़ी बहन हो आप मेरी

नेहा की शादी एक संयुक्त परिवार में हुई थी। घर में सास ससुर के अलावा जेठ जेठानी भी साथ ही रहते थे। नेहा की जेठानी का स्वभाव बहुत ही अच्छा था। वह नेहा से उम्र में कुछ वर्ष ही बड़ी थी, दोनों के विचार...

और पढ़ें