टैग : Farmers

नेता नहीं वो हमारा अपना अन्नदाता है !

कड़क ठण्ड में ,पानी से नहलाओ ,हम सभी को ये दे खाने को , पर इसे जम के बस लाठी खिलाओ ,शर्म से न अब कोई लज्जाता है ,क्या हुआ अगर वो अन्नदाता हैं ? सर्दी,बारिश, ओला ,इसके खिलाफ ,सरकार, कानून,...

और पढ़ें

किसान का बेटा

मैं बहुत छोटा था तो अपने पिता को खेतों में मेहनत करते देखता था मेरे बाबा सिर्फ आंठवी  तक पढ़े थे क्योंकि उस समय  गांव में स्कूल नहीं होते थे आगे की पढाई करने के लिए शहर जाना पडता था और मेरे बाबा एक छोटी किसान परिवार से...

और पढ़ें