टैग : Gang rape

अबला की पीड़

(अबला की पीड़)उफ्फ़ अब तो बस करो निर्वस्त्र बदन के प्रशंसकों आँखें और चौड़ी कर लो निश्चेतन तन को भी आँखों से नौंच लो। पर, इससे पहले मुझ पर बीतीं सुन लो आठ हाथों ने घसीटते हुए बाल खिंचते नौंचते इस अबला को पटका।...

और पढ़ें