टैग : New mother

नई माँ के लिए 5 आवश्यक सुझाव

सारे घर में चहलकदमी हो रही थी । सभी खुश हो काम निपटाने में लगे हुए थे । माँ रसोई में पकवान बनाने में लगी थी । पिताजी भी बरामदे से गेट तक न जाने कितने ही चक्कर लगा चुके थे । दरअसल आज काम्या बुआ जी...

और पढ़ें

मैं प्रेगनेंट हूँ भी या नहीँ

दोस्तों हर महिला के लिए माँ बनना एक परम सुख है , लेकिन कई बार अपने पीरियड्स को लेकर हम महिलाएँ लापरवाही कर जाती हैं , यहाँ तक कि हम अपनी पिछली तारीख तक याद रखना जरूरी नहीं समझते। ...

और पढ़ें

स्ट्रेचमार्कस् मुझे बदसूरत नहीं  बल्कि पूर्ण होने का अहसास...

स्ट्रेचमार्कस् मुझे बदसुरत नहीं  बल्कि पूर्ण होने का अहसास देते है चलो भाई ,अभी शादी तो निपट गयी। बस अब बहू एक नन्हा बालक घर ले आओ। ज्यादा देर ना करना । आजकल कि लड़कियों जैसै। दादी सासू माँ ने...

और पढ़ें

यह खुशबू करती है रिश्तों की डोर मजबूत

शुरू से ही मेरी यह जिज्ञासा का विषय रहा है कि नवजात शिशु व 2-3 महीने का बच्चा अनेक महिलाओं के बीच अपनी मां को कैसे पहचान लेता है। बड़े बुजुर्ग इसका जवाब देते हैं  कि प्रसव के बाद महिलाओं के शरीर...

और पढ़ें

मां की ममता

काव्या,एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम करने वाली सुंदर,सुशील ,सर्वगुण संपन्न परन्तु एक अनाथ लड़की थी।अनाथ आश्रम  में रह कर शिक्षा पूरी करी और नौकरी प्राप्त करी।                 ...

और पढ़ें

जिंदगी मुस्करा उठी

डॉक्टर ने जैसे ही नेहा को यह खुशखबरी दी कि उसकी प्रेगनेंसी रिपोर्ट पॉजिटिव है, सुनकर नेहा व उसके पति पवन की आंखों में खुशी के मारे आंसू आ गए| 7 साल से दोनों के कान इस खुशखबरी को सुनने के लिए तरस रहे थे| समाज व परिवार की बातें सुन,...

और पढ़ें

उस त्याग में सुकून था

जब मैं 2.5महीने की प्रेग्नेंट थी तब मुझे फ़ूड पोइज़न हो गयी। डॉक्टर ने पूरी प्रेग्नेंसी बहार का खाना मना कर दिया.. मैं बचपन से चटोरी थी। इन दिनों तो वैसे ही चटपटा तीखा खट्टा खाने का दिल करता है.. एक दिन मेरे पति कहने...

और पढ़ें

गर्भावस्था में ध्यान रखने योग्य बातें

गर्भावस्था किसी भी स्त्री के लिए एक महत्वपूर्ण अवस्था होती है।इस समय एक महिला का शारिरिक,मानसिक,भावात्मक बदलाव हो रह होते हैंं।कुछ हैरानी करने वाला और नवीनतम होता है।हालांकि घर की अन्य अनुभवी स्त्रियां अपने -अपने बेहतर सुझाव देती...

और पढ़ें

जब मैं पहली बार मां बनी

मेरी शादी को अभी 3 महीने ही हुए थे। घर में मेरे पति के अलावा सास ससुर भी साथ रहते थे। सास ससुर हमेशा आशीर्वाद देते हुए कहते "बहू जल्दी से अब तो तू पोते का मुंह दिखा दे!" सुन मैं शर्मा जाती थी। कई दिनों से मुंह कड़वा...

और पढ़ें

मातृत्व - सास का आशीर्वाद।

सुरेखा और सुरेश की शादी को पांच साल हो गए थे ।दोनों ही बहुत सुलझे और समझदार दंपत्ति थे ।पारिवारिक जिंदगी सुखमय और निश्चिंतता से चल रही थी।सुरेखा की सास धार्मिक प्रवृतिसुरेखा और सुरेश की शादी को पांच साल हो गए थे ।दोनों ही बहुत...

और पढ़ें