टैग : Right parenting

तुलना

ममता पाँच साल की थी जब उसकी छोटी बहन का जन्म हुआ। वह बहुत खुश थी। उसने अपनी बहन का नाम खुशी रखा। वह रोती तो ममता भी रोती। जितनी बार खुशी रात में जगती उतनी बार ममता भी जगती। धीरे-धीरे समय बीतता गया और दोनों बडी़ होने लगी। खुशी तीनों...

और पढ़ें

मार्गदर्शक ही बनें कल्पवृक्ष नहीं

बच्चे अपने माँ बाप की परछाई होते हैं वो जाने अनजाने उन्हीं का व्यवहार अपने जीवन मे उतारने का प्रयास भी करते है।इसलिए स्वयं के व्यवहार में भी बहुत धैर्य और सुलझाव की आवयश्कता होती है। आज कल साधनों की उपलब्धता और स्वयं के भी अरमानों...

और पढ़ें

बच्चों को बचत करना कैसे सिखाएं ?

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि बच्चे स्वभाव से ही जिद्दी होते हैं। छोटी-छोटी बातों पर जिद करना, बाजार में खिलौने देखकर रोना यह उनकी आदत में ही शुमार हो जाता है। यह उनका बचपना होता है परंतु इस बचपने में उनकी हर जिद पूरी करते-करते पिता...

और पढ़ें