टैग : #shortstories

आख़िर क्यों रही मैं चुप

आस्था..... बेहद खूबसूरत | अच्छी नौकरी मिल गई , दहेज ना  दे पाने के कारण अच्छा रिश्ता नहीं मिल रहा था | मिला एक सरकारी अच्छी नौकरी वाला , लेकिन देखने में लड़का काला ,मोटा और भद्दा सा लेकिन दहेज के लालची नहीं | आस्था...

और पढ़ें

सुरंभा

चुलबुली स्मिता अपने ससुराल पहुंची, आलोक से अरेंज मैरेज हुई थी ना कभी मिली ना कभी जाना, देखने मे आलोक बहुत धीर गम्भीर शांत थे, आलोक को पहली बार देख कर ही वो सहम गई थी पूरी शादी के दरम्यान, कैसे उससे निभाएंगी, कैसे उसे प्यार कर पाएगी...

और पढ़ें

सलोनी ब्यूटी पार्लर

बात नब्बे के दशक के शुरुआती साल की है। तब मैं स्कूली छात्रा हुआ करती थी। नए नवेले किशोरावस्था में कदम रखा था , सजना सँवरना अब अच्छा लगने लगा था। वैसे हमारी तरफ या कहूँ उस समय के दौर में हम लड़कियाँ मेकअप शेकअप से कोसों...

और पढ़ें