तनाव मुक्त जीवन - Blog Post by Aruna Dora

 तनाव मुक्त जीवन  - Blog Post by Aruna Dora

वास्तव में आज के तनावग्रस्त माहौल में खुद को तनाव मुक्त रहना बहुत ही मुश्किल है। शायद ही कोई ऐसा होगा जो इससे अछूता है। यहां तक कि बच्चे भी इसकी चपेट में है।


पढ़ाई, रिजल्ट को लेकर कभी भी बच्चों पर बहुत अधिक दबाव नहीं डालना चाहिए ।इससे बच्चे तो तनाव में आते हैं साथ ही साथ उनका स्वास्थ्य भी बिगड़ जाता है। उतना ही उनको करने दे जितना वह कर सकते हैं या सीख सकते हैं। दूसरों के साथ बच्चों की तुलना ना करें। बार-बार तुलनात्मक रवैया बच्चों पर बुरा असर डालती है जो सीधा उनके स्वास्थ्य पर असर करता है।

मैं अपने को तनाव मुक्त रहने के लिए निम्नलिखित उपाय करती हूं।

ईश्वर स्मरण ,नाम जाप,तेज स्वर में भजन लगाकर सुनना। क्योंकि सर्वशक्तिमान ईश्वर पर मेरा अगाध विश्वास है इन उपायों से मुझे कुछ राहत अवश्य मिलती है।


कम से कम 10 मिनट के लिए वॉक। प्रतिदिन 20 मिनट का वॉक शरीर को स्वस्थ रखने में काफी सहायक होता है ।तेज कदमों से 10 मिनट चलने पर तनाव से कुछ राहत होती है ।

तनाव की स्थिति में चीजों को या घटनाओं को नकारात्मक नहीं सकारात्मक दृष्टि से फिर से देखने की कोशिश करती हू ।

निरुत्साह नहीं उत्साह पूर्वक काम को करने की कोशिश।

पर्याप्त नींद और आराम शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक है। पर्याप्त नींद हमें तनाव से दूर रखने में कारगर साबित होता है।


अपने आप को अन्य कामों में मशगूल करने की कोशिश रहती है।


दोस्तों के साथ अधिक से अधिक समय बिताने पर भी तनाव से हम दूर रह सकते हैं ।

कपिल शर्मा शो अगर चल रहा हो तो निश्चित रूप से उसे देखने से मैं अपने आपको काफी हल्का महसूस करती हूं।

कभी-कभी परिस्थितियां हमारे हाथ में नहीं होती ऐसे में तनाव ग्रस्त होने के बजाय समय और ईश्वर पर छोड़ देना चाहिए।



#ब्लॉगिंग चैलेंज .....मानसिक स्वास्थ्य#


What's Your Reaction?

like
1
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0